राज्य पीसीपीएऩडीटी का दिल्ली में धावा

चिकित्सक अशोक गुप्ता सहित तीन आरोपी गिरफ्तार

राजस्थान पीसीपीएनडीटी टीम द्वारा कन्या भ्रूण हत्यारों और भ्रूण लिंग जांच करने वालों के खिलाफ की जा रही कार्रवाई लगातार जारी है। इस बार टीम ने दिल्ली में इंटरस्टेट कार्यवाही करते हुये एमडी चिकित्सक डॉ. अशोक कुमार गुप्ता व दलाल ललिता एवं एक अन्य सोनिया कौर को गिरफ्तार किया। साथ ही उपयोग में ली गयी सोनोग्राफी मशीन जब्त कर ली गयी। राज्य दल की यह अब तक की 23वीं इंटरस्टेट सहित 91वीं कार्यवाही है। यह दिल्ली में अब तक की राज्य टीम की पहली कार्यवाही है।
अध्यक्ष राज्य समुचित प्राधिकारी पीसीपीएनडीटी एवं मिशन निदेशक नवीन जैन ने बताया कि श्रीगंगानगर क्षेत्र के मुखबिर के जरिए सूचना मिल रही थी कि कुछ दलाल गर्भवती महिलाओं को हरियाणा व दिल्ली ले जाकर भूर्ण लिंग जांच करवा रहे हैं। टीम भी इन पर लगातार नजर रखे हुए थी और मुखबिरों के संपर्क में रही। पुष्टि के लिए टीम सदस्य पीसीपीएनडीटी प्रभारी रणदीप सिंह व विनोद बिश्नोई ने इस कार्यवाही से पहले गोलूवाला व दिल्ली जाकर रैकी करते हुए मामले की विस्तृत जानकारी एकत्रित की और इसके बाद टीम गठित कर कार्रवाई करने का निर्णय लिया गया।
जैन ने बताया कि टीम सोमवार को ही दिल्ली पहुंच गई और मंगलवार सुबह डमी गर्भवती महिला के जरिए दलाल बबीता से हरियाणा के बहादुरगढ़ में संपर्क किया। जहां से दलाल व उसका पुत्र महिला को दिल्ली के पटेल नगर स्थित किरण डायग्नोस्टिक सेंटर ले गई। यहां चिकित्सक डॉ. अशोक गुप्ता ने जांच कर भ्रूण लिंग की जानकारी दी और चिकित्सक व दलालों ने महिला से पैसे लेकर आपस में बांट लिए। इसके बाद इशारा मिलते ही टीम ने चिकित्सक व दलालों को गिरफ्तार कर लिया। जांच में पता चला है कि तीनों आरोपी लंबे अर्से से इस धंधे में लिप्त थे। वहीं दिल्ली टीम को मौके पर बुलाया गया, जिसमें स्टेट नोडल ऑफिसर डॉ. सत्यजीत कुमार एवं जिला नोडल अधिकारी डॉ. सौहार्द नाथ मौजूद रहे। एमडी जैन ने दिल्ली टीम का धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा कि भविष्य में भी दोनों टीमें मिलकर ऐसे घिनौना कृत्य करने वालों की धरपकड़ जारी रखेंगे।
परियोजना निदेशक पीसीपीएनडीटी श्री रघुवीर सिंह ने बताया कि इस कार्यवाही में सीआई हरिनारायण शर्मा व अरूण चौधरी, हैड कांस्टेबल डालचंद, देवेंद्र सिंह, लालचंद मीणा, पीसीपीएनडीटी प्रभारी रणदीप सिंह, सहायक के रूप में नवलकिशोर व्यास एवं विनोद बिश्नोई शामिल रहे हैं।

Read more