सरकारों को चाहिए की समाजसेवी संस्थाओं पर ध्यान दें- अल्का चौधरी

मानव सेवा में समर्पित विभिन्न समाज सेवी संस्थाओं का काम है की वो शोषित और पीड़ितों की बाहैसियत मदद दें और उनके दुखों में उनके साथी बनें। पूरे भारतवर्ष में इस तरह की स्वयंसेवी और समाजसेवी संस्थाओं की गिनती हज़ारों में हैं जो अलग अलग क्षेत्रों में अपनी तरह के कार्यों में रत हैं,और भारत के विकास में बाधा बन रही अनेकों समस्याओं का हल ढूंढ कर गरीबों और पीड़ितों की सहायता कर रही हैं। ऐसी ही बहोत सी संस्थाओं में एक नाम है जैन सोशियल ग्रुप।
जैन सोशियल ग्रुप की भारतवर्ष में अनेकों शाखाएं हैं जोकि समाज के अलग अलग वर्गो के उत्थान के लिए काम कर रही हैं। जैन सोशियल ग्रुप में महिलाओं के लिए भी एक मेकेनिज़्म का निर्माण किया गया है जिसका नाम ‘संगिनी सेन्ट्रल’ है और महिलाओं के लिए काम कर रही हैं।

वर्तमान में संगिनी सेन्ट्रल फोरम की अध्यक्षा अल्का चौधरी ने बताया की हमारी संस्था सिर्फ एक संस्था नहीं है ये पीड़ित दलित शोषित महिलाओं के लिए एक संबल है। चूंकि समाज में समान स्तर पर महिलाओं की मौजूदगी नहीं है और पूरे समाज में महिलाओं के लिए बराबरी का स्थान बनाने में सरकार और अनेकों महिला विकास संगठन इस काम में अपनी अपनी भूमिका निभा रहे हैं। लेकिन कई बार संस्था को भी अपनी जिम्मेदारियां निभाने में अनेक चुनौतिओं का सामना करना पड़ता है सरकार से अनुरोध है की जो संस्थाए सरकारी पंजीकरण से वंचित उनके लिए भी सरकार अपने नियम थोड़े लचीले करे और सहायता दे।

संगिनी सेन्ट्रल के संपर्क में आने वाली महिलाओं के लिए संस्था पूरे मन से अपनी जिम्मेदारी निभाती आरही है अपने सामर्थ्य के अनुसार समस्या ग्रस्त या आर्थिक तौर पर कमज़ोर महिलाओं को उनके स्वाभिमान के साथ जीने में सहायता करती हैं।

संस्था द्वारा समय समय पर पात्र महिलाओं को सिलाई मशीन, राशन,रोजगार के कोर्स उपलब्ध करवाए जाते हैं। संगिनी से संपर्क करने के लिए जैन सोशियल ग्रुप की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाएं।

Read more

ग्लैम वॉक 2 में मॉडल्स ने बिखेरे सौंदर्य के जलवे


टैलेंट इन द हुड एक ऐसी संस्था है जो आर्टिस्ट्स को प्लेटफार्म देने के लिए काम कर रही है। इसके फाउंडर्स अभिनीत सचदेवा, जसबीर कौर और दीपेश माथुर ने बताया कि ऐसे कई लोग है जिनमें कई तरह की स्किल्स होती है और अगर उन्हें थोड़ा सपोर्ट करके राह दिखाई जाई तो वे काफी अच्छा मुकाम हासिल कर सकते हैं। इसी मुहिम के तहत हम लोग अलग अलग शोज और इवेंट्स आयोजित करते हैं जिनमे अलग अलग तरह के कौशल के व्यक्तियों को अपना स्पेशल टैलेंट दिखाने का मौका मिलता है।

इसके साथ ही हम सोशल मीडिआ पर हर तरह के आर्टिस्ट्स को प्रमोट करते है जिससे उनके टैलेंट को पहचान मिल सके। इसी उद्देश्य के साथ हमने ग्लैम वॉक 2 का आयोजन किया गया जिसमें मॉडल्स, फोटोग्राफर्स और डिज़ाइनर्स को अपनी खूबियां दिखाने का मौका मिला। इसमें 21 मॉडल्स, 7 फोटोग्राफर्स, 2 सिनेमेटोग्राफर्स, 3 डिज़ाइनर्स और एक इमेज ने कंसल्टेंट हिस्सा लिया। हर दो महीने में आयोजित होने वाले इस शो में इच्छुक मॉडल्स व फोटोग्राफर्स का पोर्टफोलियो तैयार करवाया जाता है और उन्हें आगे बढ़ने के लिए प्रोजेक्ट्स भी दिलवाये जाते हैं जिससे वे अपने पैशन को प्रोफेशन में बदल सकें। यह मॉडल्स, डिजाइनर्स, फोटोग्राफर्स की कोलाबरेशन मीट होती है। शो से पहले 3 दिन का ट्रेनिंग सेशन भी हुआ जिनमे एक्सपर्ट्स इन नए लोगो को अपने अनुभवों से परिचित करवाया तथा इन्हें आगे बढ़ने में सहायता की।


इस शो में दो राउंड हुए। सभी पार्टिसिपेंट्स को 7 के दो ग्रुप्स में बांटा गया। इस शो में एक स्पेशल टैलेंट राउंड भी हुआ जिसमें वहां मौज़ूद कई लोगो ने अपना टैलेंट दिखाया। इस शो के सह प्रायोजक फ्रिल्स एंड फैशन और वी. एल. सी. सी. इंस्टिट्यूट ऑफ़ ब्यूटी एंड न्यूट्रिशन है। यह शो एक निस्वार्थ भावना के साथ लोगो को अपनी खूबियों से परिचित करवाने के लिए किया जाता है जिसमे कोई भी व्यक्ति भाग ले सकता है तथा एंट्री निशुल्क है। डिज़ाइनर पिंकी जैन, हर्षित जैन और अरुणिमा फ्रेडरिक ने अपना कलेक्शन शोकेस किया।

Read more

जयपुर कॉलेज ऑफ़ फार्मेसी में मनाया गया अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस


सीतापुरा स्तिथ जयपुर कॉलेज ऑफ़ फार्मेसी में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया गया। योग दिवस के उपलक्ष्य में योग गुरु रामजीलाल द्वारा छात्र छात्राओं को योग के गुर सीखाने के साथ साथ योग से होने वाले शारीरिक और मानसिक फायदों के बारे में विस्तार से बताया। छात्र छात्राओं और शिक्षकों ने उत्साह पूर्वक योग किया।

कॉलेज के चैयरमेन प्रोफ़ेसर एम एम अग्रवाल ने अपने सम्बोधन में बताया की योग के द्वारा बौद्धिक और शारीरिक क्षमताओं को मजबूत किया जा सकता हैं। योग के नियमित अभ्यास से हमारी सभी इन्द्रिय सामंजस्य के साथ काम करती हैं जिससे विचारों में सकारात्मकता का संचार होता है।
कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ मयंक बंसल ने उत्साह के साथ इस पर्व में भाग लेने पर सभी छात्र छात्रों का धन्यवाद् कर उज्जवल भविष्य की शुभकामनाएँ दी।
कॉलेज रजिस्ट्रार उमेश अग्रवाल ने बताया की सभी कॉलेज और शिक्षण संस्थाओं की जिम्मेदारी है की वे अपने यहाँ पढ़ने वाले बच्चो को स्वस्थ शैक्षणिक वातावरण के साथ साथ उनके शारीरिक और मानसिक विकास का भी ध्यान रखें योग दिवस जैसे आयोजनों से इन जिम्मेदारिओं को निभाने में मदद मिलती है।

Read more

एम्स में निकली भर्ती, शीघ्र करें आवेदन

आवेदन शुल्क : सामान्य/ ओबीसी/ ईडब्ल्यूएस वर्ग के उम्मीदवारों के लिए 1,000 रुपये। एससी/ एसटी/ महिला/ दिव्यांगों के लिए 200 रुपये। शुल्क का भुगतान ऑनलाइन माध्यम से किया जाएगा।

नई दिल्ली: ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (एम्स), जोधपुर (राजस्थान) में 110 पदों पर भर्ती के लिए आवेदन मांगे है। इन पदों में योग इंस्ट्रक्टर, फार्मासिस्ट, असिस्टेंट इंजीनियर (रेफ्रिजरेशन एंड एयर कंडीशनिंग/ सिविल/ इलेक्ट्रिकल), जूनियर इंजीनियर (रेफ्रिजरेशन एंड एयर कंडीशनिंग/ सिविल/ इलेक्ट्रिकल), मैटरनिटी एंड चाइल्ड वेलफेयर ऑफिसर समेत अन्य पद शामिल हैं।

योग इंस्ट्रक्टर, पद: 01 (अनारक्षित)
शैक्षिक योग्यता: मान्यता प्राप्त संस्थान/ विश्वविद्यालय से किसी भी विषय में बैचलर डिग्री के साथ योग में डिप्लोमा प्राप्त हो। या योगा साइंस विषय में बैचलर डिग्री प्राप्त हो। और संबंधित क्षेत्र में न्यूनतम पांच वर्ष का अनुभव प्राप्त हो।
आयु सीमा: न्यूनतम 21 वर्ष और अधिकतम 35 वर्ष।

असिस्टेंट इंजीनियर (रेफ्रिजरेशन एंड एयर कंडीशनिंग), पद : 01 (अनारक्षित)
योग्यता: मैकेनिकल/ इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में बैचलर डिग्री प्राप्त होने के साथ संबंधित क्षेत्र में न्यूनतम पांच वर्ष का अनुभव हो।

ये भी पढ़ें— यूपीपीसीएल में टेक्नीशियन के 4102 पदों पर निकली वैकेंसी

असिस्टेंट इंजीनियर (सिविल), पद : 02 (अनारक्षित)
योग्यता : सिविल इंजीनियरिंग में बैचलर डिग्री प्राप्त होने के साथ संबंधित क्षेत्र में न्यूनतम पांच वर्ष का अनुभव हो।

असिस्टेंट इंजीनियर (इलेक्ट्रिकल), पद : 01 (अनारक्षित)
योग्यता : इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में बैचलर डिग्री प्राप्त होने के साथ संबंधित क्षेत्र में न्यूनतम पांच वर्ष का अनुभव हो।
आयु सीमा (उपरोक्त तीन पद) : अधिकतम 35 वर्ष।

जूनियर इंजीनियर (रेफ्रिजरेशन एंड एयर कंडीशनिंग), पद : 04 (अनारक्षित : 03)
योग्यता : मैकेनिकल/ इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में बैचलर डिग्री प्राप्त हो। या मैकेनिकल/ इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा प्राप्त होने के साथ संबंधित क्षेत्र में न्यूनतम पांच साल का अनुभव प्राप्त हो।

जूनियर इंजीनियर (सिविल), पद : 06 (अनारक्षित : 05)
योग्यता : सिविल इंजीनियरिंग में बैचलर डिग्री प्राप्त हो या सिविल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा प्राप्त होने के साथ संबंधित क्षेत्र में न्यूनतम पांच वर्ष का अनुभव हो।

जूनियर इंजीनियर (इलेक्ट्रिकल), पद : 02 (अनारक्षित)
शैक्षिक योग्यता: इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में बैचलर डिग्री प्राप्त हो। या इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा प्राप्त होने के साथ संबंधित क्षेत्र में न्यूनतम पांच वर्ष का अनुभव हो।
आयु सीमा (उपरोक्त तीन पद) : अधिकतम 30 वर्ष।

पीएसीएस एडमिनिस्ट्रेटर (टेक्निकल ऑफिसर फोटोग्राफी), पद : 01 (अनारक्षित)
शैक्षिक योग्यता: मेडिकल आईटी सिस्टम्स/ पीएसीएस में बीई/ बीटेक/ एमसीए डिग्री के साथ संबंधित क्षेत्र में न्यूनतम दो साल का अनुभव हो।

मैटरनिटी एंड चाइल्ड वेलफेयर ऑफिसर, पद: 01 (अनारक्षित)
शैक्षिक योग्यता: जनरल नर्सिंग एंड मिडवाइफरी या समकक्ष में बैचलर डिग्री/ डिप्लोमा प्राप्त हो। डिग्री धारकों को कम से कम एक वर्ष का और डिप्लोमा धारकों को न्यूनतम दो साल का अनुभव हो।
आयु सीमा (उपरोक्त दो पद) : न्यूनतम 21 वर्ष और अधिकतम 35 वर्ष।

इलेक्ट्रोकार्डियोग्राफ टेक्निकल असिस्टेंट, पद : 01 (अनारक्षित)
योग्यता : विज्ञान विषय में बारहवीं परीक्षा पास होने के साथ इलेक्ट्रोकार्डियोग्राफी में सर्टिफिकेट/ डिप्लोमा प्राप्त हो। संबंधित क्षेत्र में न्यूनतम दो साल का अनुभव प्राप्त हो।
आयु सीमा : न्यूनतम 21 वर्ष और अधिकतम 30 वर्ष।

हेल्थ एजुकेटर (सोशल साइकोलॉजिस्ट), पद : 01 (अनारक्षित)
योग्यता : साइकोलॉजी विषय में एमए/ एमएससी डिग्री हो। साथ ही पांच वर्ष का अनुभव होना चाहिए।

मेडिकल रिकॉर्ड ऑफिसर, पद : 04 (अनारक्षित : 03)
योग्यता : साइंस या समकक्ष विषय में बैचलर डिग्री प्राप्त हो। मेडिकल रिकॉर्ड में एक साल का कोर्स किया हो। 200 बिस्तर वाले अस्पताल में न्यूनतम पांच वर्ष का अनुभव हो।
आयु सीमा (उपरोक्त दो पद) : न्यूनतम 21 वर्ष और अधिकतम 35 वर्ष।

ऑफिस असिस्टेंट, पद : 18 (अनारक्षित : 06)
योग्यता : किसी भी विषय में बैचलर डिग्री प्राप्त होने के साथ कम्प्यूटर में दक्ष हो।
आयु सीमा : न्यूनतम 21 वर्ष और अधिकतम 30 वर्ष।

प्राइवेट सेक्रेटरी, पद : 05 (अनारक्षित : 04)
योग्यता : मान्यता प्राप्त संस्थान से बैचलर डिग्री हो। शॉर्ट हैंड स्पीड 120 शब्द प्रति मिनट हो।

पर्सनल असिस्टेंट, पद : 07 (अनारक्षित : 05)
योग्यता : मान्यता प्राप्त संस्थान से बैचलर डिग्री हो। शॉर्ट हैंड स्पीड 100 शब्द प्रति मिनट हो।

असिस्टेंट स्टोर ऑफिसर, पद : 01 (अनारक्षित)
योग्यता : किसी भी विषय में बैचलर डिग्री प्राप्त होने के साथ मटेरियल मैनेजमेंट में पोस्ट ग्रेजुएट डिग्री/ डिप्लोमा प्राप्त हो। या
मटेरियल मैनेजमेंट विषय में बैचलर डिग्री होने के साथ संबंधित क्षेत्र में न्यूनतम तीन साल का अनुभव हो।
आयु सीमा (उपरोक्त तीन पद) : न्यूनतम 18 वर्ष और अधिकतम 30 वर्ष।

मेडिकल रिकॉर्ड टेक्निशियन, पद : 20 (अनारक्षित : 10)
योग्यता : मेडिकल रिकॉर्ड में बीएससी डिग्री प्राप्त हो। या विज्ञान विषय में बारहवीं परीक्षा पास होने के साथ मेडिकल रिकॉर्ड कीपिंग में न्यूनतम छह माह का सर्टिफिकेट/ डिप्लोमा प्राप्त हो। संबंधित क्षेत्र में न्यूनतम दो साल का अनुभव हो। हिन्दी टाइपिंग गति 30 शब्द प्रति मिनट और इंग्लिश टाइपिंग गति 35 शब्द प्रति मिनट हो।
आयु सीमा : न्यूनतम 18 वर्ष और अधिकतम 30 वर्ष।

स्टेनोग्राफर ग्रुप-सी, पद : 34 (अनारक्षित : 16)
योग्यता : बारहवीं या समकक्ष परीक्षा पास हो। शॉर्टहैंड गति 80 शब्द प्रति मिनट हो।
आयु सीमा: न्यूनतम 18 वर्ष और अधिकतम 27 वर्ष।

आयु सीमा में एससी/ एसटी वर्ग के उम्मीदवारों को पांच वर्ष, ओबीसी वर्ग के उम्मीदवारों को तीन वर्ष और दिव्यांगों को दस वर्ष की छूट प्राप्त होगी।

चयन प्रक्रिया : योग्य उम्मीदवारों का चयन लिखित परीक्षा/ स्किल टेस्ट के आधार पर किया जाएगा।

आवेदन शुल्क : सामान्य/ ओबीसी/ ईडब्ल्यूएस वर्ग के उम्मीदवारों के लिए 1,000 रुपये। एससी/ एसटी/ महिला/ दिव्यांगों के लिए 200 रुपये। शुल्क का भुगतान ऑनलाइन माध्यम से किया जाएगा।
वेबसाइट: www.aiimsjodhpur.edu.in

Read more

वर्ल्ड फार्मासिस्ट डे सेलिब्रेशन

जयपुर। जयपुर कॉलेज ऑफ़ फार्मेसी सीतापुरा के द्वारा हर साल की तरह इस साल भी वर्ल्ड फार्मेसी डे मनाया। इस कार्यक्रम में कॉलेज के चैयरमेन प्रो एम् एम् अग्रवाल और प्राचार्य ने छात्रों के प्रतिनिधि मंडल के साथ राज्यपाल श्री कल्याण सिंह से मुलाकात की और राज्यपाल से फार्मासिस्ट्स की सामाजिक उपयोगिता पर चर्चा कर मार्गदर्शन लिया। वर्ल्ड फार्मासिस्ट डे पर सतत जागरूकता अभियान के अंतर्गत कॉलेज के छात्र छात्राओं ने दवाइयों के सुरक्षित उपयोग और दुष्प्रभावों से लोगो जागरूक कराया।चैयरमेन एम् एम् अग्रवाल ने छात्र छात्राओं के उत्साह की प्रसंसा करते हुए कहा की ये नयी पीढ़ी मेडिकल क्षेत्र के मजबूत स्तम्भ साबित होंगे। दवाओं के उपयोग और जनसाधारण की दवाइओ को लेकर अवधारणा पर कॉलेज के प्राचार्य मनीष गुप्ता ने लोगो से आग्रह किया की बिना चिकित्सक की सलाह के दवाइयां नहीं लेनी चाहिए। कॉलेज प्रबंधक उमेश अग्रवाल ने कहा की फार्मेसी के प्रतिभावान शिक्षार्थी चिकित्सा के क्षेत्र में अहम् भूमिका निभाते हुए सुनहरे भविष्य का निर्माण करते हैं। सुव्यवस्थित तरीके से सैंकड़ो छात्र छात्राओं को एक सुर लय में निनाद के साथ पदचलन मोहक रहा।
देखे विडिओ –

Read more

प्रतिभावान छात्र छात्राएं उज्ज्वल भविष्य के निर्माता-अख्तर उल वासेह

जयपुर। राजधानी में हेल्पिंग हेंड फाउंडेशन की ओर से राजस्थान के मेधावी मुस्लिम छात्र छात्राओं का सम्मान समारोह रखा गया। प्रोफेसर वासेह ने कहा कि समाज के नव निर्माण के लिए स्टूडेंट्स को भी आगे आना चाहिए। सम्मान समारोह में मोटिवेशनल स्पीकर नासिर खान ,खुर्शीद हुसैन ,संस्था के महासचिव नईम रब्बानी ,आदि ने हेल्पिंग हेंड फॉउंडेशन के द्वारा आयोजित सम्मान समारोह मेधावी शिक्षार्थिओं को सम्मानित किया और मोमेंटो प्रशस्ति पत्र ,पांच सौ रूपए का नकद पुरुस्कार और किताबें प्रदान की। संस्था जरुरतमंद शिक्षार्थिओं को स्कॉलरशिप भी देगी जिससे प्रतिभावान स्टूडेंट्स को पढाई के लिए प्रोत्साहित किया जा सके।

Read more

महिला सशक्तिकरण और सम्मान के लिए आयोजित हुआ ‘वुमन ऑफ़ द फ्यूचर अवार्ड 2017’

जयपुर। वुमन ऑफ़ द फ्यूचर अवार्ड के तीसरे संस्करण का आयोजन बिड़ला ऑडिटोरियम में आयोजित किया गया। इस कार्यक्रम में ब्रांड एम्बेसेडर कुनिका सदानंद ,अभिनेत्री कीर्ति कुलहारी ,टीवी कलाकार अनूप सोनी ,गायक रविंद्र उपाध्याय ,और लेखिका नंदिता पूरी भी उपस्थित थे।
कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि राज्य महिला आयोग की प्रमुख सुमन शर्मा ,जयपुर महापौर अशोक लाहोटी और पूर्व महापौर ज्योति खंडेलवाल थे।
कार्यक्रम की शुरुआत मुख्या अतिथियों द्वारा द्धीप प्रज्ज्वलन से किया गया। बच्चों ने बेटी बचाओ का सन्देश देते प्लेकार्ड के साथ रेम्प वाक किया। अवार्ड कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य कैंसर पीड़ित बच्चों के इलाज में आर्थिक मदद करना था।कार्यक्रम सोलह से लेकर पैंसठ साल तक की महिलाओं का 15 केटेगरी में 65 महिलाओं का सम्मान किया गया। शिक्षा ,मीडिया ,एंटरप्रेन्योर ,प्रोफेशनल स्पोर्ट्स कला और संस्कृति सहित कई क्षेत्रो को शामिल किया गया।

Read more

जीएलए का एमसीए बना प्लेसमेंट की सीढ़ी

जीएलए विश्वविद्यालय मथुरा (उ.प्र.) तकनीकी शिक्षा के क्षेत्र में जिन पाठ्यक्रमो में अपनी बुलन्दियाँ प्राप्त कर चुका है, उनमें एमसीए पाठ्यक्रम भी शामिल है। कई बार तो एक से ज्यादा भी छात्रों ने प्रवीण्य सूची में स्थान पक्का किया और एक बार तो जीएलए के छात्रों ने उत्तरप्रदेश प्राविधिक विश्वविद्यालय की प्रवीण्य सूची के प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय स्थान पर कब्जा ही कर लिया था।
Read more

ऑक्‍सफोर्ड छात्र ने 100% हल किया JEE एग्‍जाम, भारतीयों ने किया ट्रोल

किसी को नहीं पता कि ये सब कब शुरू हुआ. लेकिन ऑक्‍सफोर्ड यूनिवर्सिटी के एक छात्र को भारतीय छात्रों के गुस्‍से का शिकार होना पड़ा है. ये सब तब हुआ जब इस छात्र ने IIT-JEE के एग्‍जाम को 100 फीसदी हल कर दिया

Read more