स्पेन- सैनी ने दिलाया भारत को सिल्वर मैडल

स्पेन में चल रही वर्ल्ड मास्टर वेटलिफ्टिंग चैंपियनशिप में जयपुर के सत्यनारायन सैनी ने 56 किलो भार वर्ग में रजत पदक अपने देश के नाम किया वही इसी भार वर्ग में मेजबान देश के वेटलिफ्टर जोउसे फरफन ने स्वर्ण पदक पर कब्ज़ा जमाया। आई.डब्लू.ऐफ. से मान्य इस चैंपियनशिप में सैनी ने यह उपलब्धि ऐज ग्रुप 50 में हासिल की। भारत के लिए रजत पदक जीतने वाले सैनी पूर्व में भी राष्ट्रीय स्तर पर मेडल जीत चुके है। उन्होंने अपनी सफलता का श्रेय जयपुर स्तिथ चौगान स्टेडियम में वेटलिफ्टिंग कोच मदनलाल शर्मा को दिया। जिनसे नियमित रूप से प्रशिक्षण ले रहे है। चौगान स्टेडियम से वेटलिफ्टिंग में इंटरनेशनल लेवल पर पहली बार मैडल जीतने पर स्टेडियम प्रभारी राजनारायन शर्मा ने बधाई दी।

एशियन गेम्स में हिंदुस्तान को गोल्ड दिलाने वाली राही सरनोबत बनी पहली शूटर जिसने एशियाई गेम में गोल्ड का खाता भारत के लिए खोला।

पदक तालिका :
देश                   गोल्ड       सिल्वर     ब्रॉन्ज़
चीन                    37               30          16
जापान                21                23          26
द कोरिया            11                 15          23
ईरान                    8                  4            6
इंडोनेशिया            6                  3            7
उ कोरिया              5                  2            3
भारत                    4                  3            8

 

 

Read more

टेलेंटेड खिला़डियो के साथ लगातार धोखा, इसलिए नहीं ला पाता भारत ओलम्पिक में गोल्ड

जयपुर में खिलाड़ियो के साथ हो रहा अन्याय थमने का नाम नहीं ले रहा है। खिलाड़ियो को उनकी प्रतिभा नहीं, बल्कि उनकी पहुंच देखकर सलेक्ट किया जा रहा है। ऐसा ही एक मामला जयपुर में पावर लिफ्टिंग बैंच प्रेस प्रतियोगिता में देखने को मिला है। जिसमें तीन गोल्ड मैडल प्राप्त खिलाड़ियो की अनदेखी की गई और उनकी जगह दूसरे रसूख वाले खिलाड़ियो को नेशनल में भेजा गया। स्टेट लेवल पर दौसा बांदीकुई में हुई प्रतियोगिता में अशोक शर्मा, सत्यनारायण माली और गोपाल मीणा ने दिसंबर में गोल्ड जीता था लेकिन फिर भी उन्हे नेशनल में नहीं शामिल किया गया। उनका कहना है कि लगातार उन्हे आश्वासन तो मिलते रहे लेकिन अधिकारियो ने उनके साथ धोखा करते हुए उनकी जगह नेशनल खेलने के लिए दूसरे खिलाड़ियो को भेज दिया।

ये खिलाड़ी उनके साथ हुए धोखे का सीधा इल्ज़ाम लगा रहे है राज्य पावर लिफ्टिंग के सचिव विनोद साहू पर… खिलाड़ियो का कहना है कि उन्हे राज्य प्रतियोगिता में प्रथम आने की सूचना भी सचिव द्वारा नहीं दी गई… जबकी इन्होने इस प्रतियोगिता की एंट्री फीस वगैरह सब जमा करवाई थी। इसके बाद इन खिलड़ियो के लाख कहने पर भी इन्हे नेशनल गेम्स की जानकारी नहीं दी गई। खिला़डियो का कहना है कि उन्होने वाट्सएप्प, मैसेज और लेटर सहित हर तरीके से सचिव से संपर्क किया …पर सचिव ने उन्हे कोई जवाब ही नहीं दिया। ये तीनो खिला़डी अब सचिव पर कार्रवाई की मांग करते हुए राज्य सरकार से इस मामले में हस्तक्षेप करने की मांग कर रहे है ।

Read more

संकुल स्तरीय भारतीय परंपरागत खेल कूद फ़ाइनल प्रतियोगिताएं

जयपुर। हिन्दू स्प्रिचुअल एंड सर्विस फाउंडेशन के जयपुर चेप्टर और नैतिक एवं सांस्कृतिक प्रशिक्षण संस्थान के तत्वाधान में हिन्दू आध्यात्मिक एवं सेवा मेले का आयोजन हुआ। जयपुर में इस कार्यक्रम का ये तीसरी कड़ी है। इन खेल कूद प्रतियोगिताओं में खो खो, सितोलिया, रुमाल झपट्टा,रस्सा कस्सी, कबड्डी जैसी भारतीय परंपरागत क्रीड़ाओं को शामिल किया गया है। राजधानी के एस एम् एस स्टेडियम में हुए इस खेल कूद प्रतियोगिता में प्रदेश के करीब 80 स्कूलों के ढाई हज़ार से अधिक विद्यार्थिओं ने भाग लिया। अलग अलग खेलों में 191 मैचों में प्रतियोगियों के तीन वर्ग बाल वर्ग,किशोर वर्ग और तरुण वर्ग बनाये गए। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि राजस्थान सरकार के प्रमुख शासन सचिव खेल जे सी मोहंती ने इस तरह के खेलों के प्रति बच्चों के लगाव की प्रशंसा करते हुए कहा कि ऐसे आयोजन एक स्थान तक सीमित नहीं रहने चाहिए बल्कि पूरे राज्य में समय समय पर होते रहने चाहिए। कार्यक्रम के मुख्य वक्ता निम्बा राम ने कहा कि एच एस एस फाउंडेशन की ये पहल बच्चों के भविष्य को आधार प्रदान करती है इससे मनोवैज्ञानिक तौर पर आदर्श व्यक्तित्व बनाने में बच्चों को सहायता मिलती है यदि हमारे युवा और बच्चे स्वस्थ होंगे तो हमारा राष्ट्र स्वस्थ अपने आप हो जायेगा।
कार्यक्रम में राजस्थान युवा बोर्ड अध्यक्ष भूपेंद्र सैनी,सुभाष बापना,सोमप्रकाश शर्मा, उदय सिंह कुंतल,राजेंद्र सिंह शेखावत, दिनेश पितलिया, अनुराग अग्रवाल, चंद्र मोहन बटवाड़ा मौजूद रहे।

Read more

शानदार जीत के बाद कुछ ऐसा बोले कप्तान विराट, स्मिथ ने माना कि अच्छा नहीं खेले

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच पांच मैचों की सीरीज का पहला वनडे टीम इंडिया ने 26 रनों से अपने नाम किया। पहली पारी के बाद हुई बारिश के चलते ऑस्ट्रेलिया को 21 ओवर में 164 रनों का लक्ष्य मिला था। जवाब में ऑस्ट्रेलियाई टीम 21 ओवर में 9 विकेट पर 137 रन ही बना सकी। युजवेंद्र चाहल ने तीन विकेट, जबकि हार्दिक पांड्या और कुलदीप यादव ने दो-दो विकेट लिए। भारतीय कप्तान विराट कोहली इस जीत से काफी खुश नजर आए। टीम इंडिया का स्कोर एक समय 87 रनों पर पांच विकेट था, लेकिन इसके बाद पांड्या (89) और महेंद्र सिंह धौनी (79) के दम पर भारत ने 50 ओवर में सात विकेट पर 281 रन बना डाले।

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच चेन्नई के एम.ए. चिदंबरम स्टेडियम पर 30 साल बाद ये पहला वनडे मैच खेला गया था। कप्तान विराट ने टॉस जीता और पहले बल्लेबाजी का फैसला लिया। हालांकि 11 रन तीन विकेट गिरने के बाद भारतीय फैन्स भी काफी निराश हो गए। विराट और मनीष पांडे तो बिना खाता खोले ही आउट हो गए।

Read more

भारतीय महिला हॉकी टीम का बेल्जियम के लड़कों की टीम से मैच ड्रॉ

एंटवर्प (बेल्जियम)। भारतीय महिला हॉकी टीम का मंगलवार को यहां बेल्जियम की जूनियर पुरुष टीम के साथ नजदीकी मुकाबला 2-2 से ड्रॉ रहा। भारत अब यूरोप दौरे पर अपना तीसरा मैच गुरुवार को लेडीज डेन बॉश के साथ खेलेगा।

Read more